Sakshatkar.com : Sakshatkartv.com

.
https://640168-ztk5vu3zffob12d1l8r.hop.clickbank.net

Random Posts

रविवार, 3 जुलाई 2022

Buy products across Home,Kitchen,Garden,Furniture,Sports and more now online at Amazon India

0

 

gramswaraj Buy products across Home,Kitchen,Garden,Furniture,Sports and more now online at Amazon India

Read more

शनिवार, 2 जुलाई 2022

मन पर चोट पहुंचना जरूरी ओशो

0



  आध्यात्मिक वैज्ञानिक ओशो आचार्य रजनीश के नाम से भी जानते हैं ओशो में चेतनाके संबंध में वैज्ञानिक दृष्टिकोण से अपनी बात रखी है ईश्वर क्या है हम कैसे खुश रह सकते हैं किस तरह से पराकाष्ठा को प्राप्त कर सकते हैं किस तरह की योग विधियां है की मन की परिकल्पना क्या है किस तरह से ऊर्जा का ट्रांस फॉर्म हो सकता है आदि विषयों पर काफी चर्चा किया है मौजूदा वीडियो मन को नियंत्रित करने केे लिए मन पर चोट पहुंचाने का मनोवैज्ञानिक दृष्टिकोण व्यक्त्त किया है इस प्रकाार ओशो मनो वैज्ञानिक आध्यात्मिक वैज्ञानिक थे  मन विज्ञान का भारतीय अध्यात्म सामंजस्य था इसका विस्तृत चर्चा किया आज वैज्ञानिक भी अपने विज्ञान से प्रयोगोंं सिद्ध कर रहे हैं

Read more

गुरुवार, 30 जून 2022

जीएसटी लगने से पेट्रोल डीजल सस्ता हो सकता है

0

केंद्र सरकार की योजना है अगर जीएसटी के दायरे में डीजल पेट्रोल लाया जाए ₹30 सस्ता हो सकता है पेट्रोल डीजल की महंगाई से परिवहन पर असर पड़ता है जिससे से महंगाई दर में काफी वृद्धि हो जाती है महंगाई बढ़ने पर गरीबों के जेब का भी खाली हो जाती है मध्यमवर्ग असर डालता है इस वीडियो में जीएसटी लगाने से पेट्रोल-डीजल के दामों पर पर कितना असर पड़ेगा विस्तृत से बताया गया है

Read more

बुधवार, 29 जून 2022

आर्मीनिया का एक ऐसा गांव बालिक स्त्री पुरुष को संभोग करने की पूरी छूट है

0


https://youtu.be/Y3L0ZnlKiZk 

पूर्व सोवियत संघ के आर्मीनिया देश में एक ऐसा गांव है जहां अट्ठारह वर्ष ऊपर से स्त्री पुरुष आपसी सहमति से संबंध बनाने की छूट है यह छूट गांव बड़े बुजुर्गों ने युद्ध से खत्म हुए जनसंख्या के कारण उठाई थी बुजुर्गों नया छूट  दे दी थी कोई भी स्त्री पुरुष अपनी सहमति से संबंध बना सकता है करते वह 18 साल से ऊपर का हो यह प्रथा उस समय मजबूरी में दी गई थी परंतु आज के लोग इस  प्रथा को छोड़ना नहीं चाहते

Read more

मंगलवार, 28 जून 2022

For loss weight

0

 https://m.leanlifenow.com/cb/https://m.leanlifenow.com/cb/

Read more

सोमवार, 27 जून 2022

ऐतिहासिक झांसी का किला उत्तर प्रदेश में

0





 झांसी का किला उत्तर प्रदेश में झांसी जिले में  बड़ी पहाड़ी पर स्थित है झांसी रेलवे स्टेशन से 3 किलोमीटर दूर है निकटतम हवाई अड्डा ग्वालियर है इसका निर्माण राजा वीर  सिंह जूदेव 1606 से 27 मैं ओरछा के बलवंत नगर शहर बंगरा नामक चट्टानी पहाड़ी पर किया था जिसे वर्तमान में झांसी कहा जाता है इस किले के लिए 10 दरवाजे झांसी किले का निर्माण बुंदेला राजपूतों के प्रमुख ओरछा साम्राज्य के शासक वीर सिंह जूदेव बुंदेला ने 1613 में किया था मोहम्मद खान बंगश ने 1728 ने महाराजा छत्रसाल पर हमला किया पेशवा बाजीराव द्वारा उनकी जीत में मदद की गई समर्थन के लिए कृतज्ञता के प्रतीक के रूप में छत्रसाल झांसी सहित अपने राज्य का एक हिस्सा पेशवा को दिया 1742 मैं नरोशंकर झांसी के सूबेदार बने अपने 15 वर्षों के शासन के दौरान उन्होंने झांसी के किले का विस्तार किया पेशवा ने 1957 में वापस बुलाया और माधव गोविंद और उनके बाद बाबूलाल कन्हाई झांसी के सूबेदार बने बाद में विश्वास राव लक्ष्मण ने 1766 से 1769  तक यह पद ग्रहण किया रघुनाथ राव दुतीय के बाद शिव राव रघुनाथ राव तृतीय के बाद बाल गंगाधर राव कोई  पुत्र नहीं था इनका विवाह मणिकर्णिका से हुआ था जो रानी लक्ष्मी बाई के नाम से प्रसिद्ध उन्होंने दामोदर राव को गोद लिया था बाद में अंग्रेजों से लड़ते हुए शहीद हुई थी

Read more

शुक्रवार, 24 जून 2022

कृषि के महत्व पर चर्चा

0

Read more

Ads